Hindi
Tuesday 13th of April 2021
41
0
نفر 0
0% این مطلب را پسندیده اند

डिक्शनरी में शिया का मतलब

अरबी डिक्शनरीयों में शिया शब्द, किसी एक इंसान या कई इंसानों का किसी दूसरे की बात मानना, किसी की मदद व सपोर्ट करना, तथा कहने या करने में समन्वयन और हमाहंगी के मतलब में इस्तेमाल किया जाता है।
 डिक्शनरी में शिया का मतलब

 अरबी डिक्शनरीयों में शिया शब्द, किसी एक इंसान या कई इंसानों का किसी दूसरे की बात मानना, किसी की मदद व सपोर्ट करना, तथा कहने या करने में समन्वयन और हमाहंगी के मतलब में इस्तेमाल किया जाता है।

अरबी डिक्शनरीयों में शिया शब्द, किसी एक इंसान या कई इंसानों का किसी दूसरे की बात मानना, किसी की मदद व सपोर्ट करना, तथा कहने या करने में समन्वयन और हमाहंगी के मतलब में इस्तेमाल किया जाता है।

नीचे कुछ मशहूर डिक्शनरीयों के नमूने प्रस्तुत किए जा रहे हैं।

القاموس: شیعة الرجل اتباعه و انصاره، و الفرقة على حدة و یقع على الواحد و الإثنین، و الجمع و المذكر، و المؤنث

अल-क़ामूस- किसी इंसान के शिया उसके मानने वाले और मददगार होते हैं। एक मज़हब पर भी शिया शब्द इस्तेमाल होता है। यह शब्द एकवचन (Singular), द्विवचन (Dual), बहुवचन (Plural), पुल्लिंग (Masculine), स्त्रीलिंग  (Feminine) सबके लिए एक ही रूप में इस्तेमाल होता है। (अल-क़ामूसुल मुहीत पार्ट 3 पेज 47)

لسان العرب: الشیعة، القوم الذین یجتمعون على الأمر، و كل قوم اجتمعوا على امر فهم شیعة، و كل قوم امرهم واحد یتبع بعضهم رأی بعض فهم شیعة

लिसानुल अरबः शिया वह ग्रुप है जो किसी बात पर सहमत हो, जो ग्रुप किसी बात पर सहमति करे वह शिया है। हर वह ग्रुप जो एक बात पर सहमत हो और उनमें से कुछ लोग, कुछ दूसरों का हुक्म मानें, वह शिया हैं। (लिसानुल अरब पार्ट 1 पेज 55)

معجم المقاییس: الشین و الیاء و العین اصلان یدل أحدهما على معاضدة و مساعفة و الى آخر على بثّ و اشادة... و الشیعة الانصار و الاعوان

मोजमुल-मक़ाईस- (ش،ع،ی) शीन, ऐन, या, के दो बेसिक मतलब हैं। एक मतलब,मदद के हैं और दूसरे प्रसार व छिन्न भिन्न होने को बयान करते हैं....... शिया यानि मदद और सपोर्ट करने वाले।( मोजम मक़ाईसुल लुग़ः पेज 545)

المصباح المنیر: الشیعة الاتباع و الانصار، و كل قوم اجتمعوا على امر فهم شیعة

मिस्बाहुल-मुनीर- शिया मानने वाले और मददगारों को कहा जाता है और जो ग्रुप भी किसी बात पर सहमति करे वह शिया है। (मिस्बाहुल-मुनीर पार्ट 1 पेज 398)

اقرب الموارد: شیعة الرجل اتباعه و انصاره، شیع و اشیاع

अक़रबुल मवारिद- किसी इंसान के शिया यानि उसके मानने वाले और मददगार, शिया की बहुवचन शियअ और अशयाअ है। (अक़रबुल मवारिद पार्ट 1 पेज 626)

النهایة: اصلها من المشایعة و هی المتابعة و المطاوعة

अन-निहायः- शिया के मौलिक मतलब, अनुसरण के हैं यानि दूसरे की बात मानना। (अन-निहायः, इब्नुल असीर पार्ट 2 पेज 519)


source : alhassanain
41
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

इस्लाम में औरत का मुकाम: एक झलक
इमाम असकरी अलैहिस्सलाम और उरूजे ...
हज़रत इमाम महदी अलैहिस्सलाम का परिचय
ईश्वरीय वाणी-४
अमीरुल मोमिनीन अ. स.
हज़रत ज़ैनब के शुभ जन्म दिवस के अवसर ...
इमाम हुसैन अ. के कितने भाई कर्बला में ...
हज़रत ज़ैनब सलामुल्लाह अलैहा
हज़रत इमाम हसन अलैहिस्सलाम
मानव जीवन के चरण 7

latest article

इस्लाम में औरत का मुकाम: एक झलक
इमाम असकरी अलैहिस्सलाम और उरूजे ...
हज़रत इमाम महदी अलैहिस्सलाम का परिचय
ईश्वरीय वाणी-४
अमीरुल मोमिनीन अ. स.
हज़रत ज़ैनब के शुभ जन्म दिवस के अवसर ...
इमाम हुसैन अ. के कितने भाई कर्बला में ...
हज़रत ज़ैनब सलामुल्लाह अलैहा
हज़रत इमाम हसन अलैहिस्सलाम
मानव जीवन के चरण 7

 
user comment