Hindi
Saturday 24th of July 2021
157
0
نفر 0
0% این مطلب را پسندیده اند

हुज्र बिन अदी की कब्र खोदे जाने पर हिज्बुल्ला का निंदा बयान

अंतर्राष्ट्रीय समूह: लेबनान में इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन (हिजबुल्लाह) ने एक बयान जारी करके इस दुश्मनाना और शिया विरोधी कदम "हुज्र बिन अदी' पैगंबर (PBUH) के महान सहाबी, की कब्र खोदे जाने की जोरदार निंदा की है.

अंतर्राष्ट्रीय कुरान समाचार एजेंसी (IQNA) टीवी नेटवर्क अल Manar के समाचार साईट के हवाले से, लेबनान में इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन (हिजबुल्लाह) परसों 2 मई को हुए एक बयान जारी करके दुश्मनाना और शिया विरोधी कदम "हुज्र बिन अदी' की कब्र खोदे जाने की निंदा करते हुऐ बल दियाः कि सैयद "हसन Nasrallah" हिजबुल्लाह के महासचिव ने दो दिन पहले धार्मिक मुक़द्दसात के हनन के बारे में चेतावनी दी थी और हम ने इस अश्लील कृत्य की भविष्यवाणी कर दी थी.

उन्होंने अपने बयान में कहा कि महान सहाबी श्री हुज्र बन अदी र. का मज़ार अहले इस्लाम के नज़दीक महत्वपूर्ण मज़ारों में से एक है और उसका अपमान और कब्र खोदना एक बर्बर और काफ़िराना मानसिकता की पैदावार है जो इस्लामी मुक़द्दसात की तुलना में किसी तरह के सम्मान के कायल नहीं.

हिज़्बुल्ला ने इस बयान में बल दिया है कि सीरियाई शासन के विरोधी कहाँ हैं जो यह दावा कर रहे थे कि हम पवित्र स्थानों की रक्षा और धार्मिक केन्द्रों और धार्मिक स्थलों का समर्थन करते हैं.?!

लेबनानी इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन ने इस बयान में चेतावनी: हिज़्बुल्ला अन्य रोज़ों के संबंध में भी गंभीर चिंता व्यक्त करती है और सभी जिम्मेदार लोगों से मांग करती है कि इस संबंध में अपनी जिम्मेदारियों का एहसास करें ताकि इस अपराध में शामिल न हों और इस तरह गैर इस्लामी कदम की रोक थाम करें.

उल्लेखनीय है कि, अतिवादी और आतंकी तत्वों ने बृहस्पतिवार को दमिश्क के प्रांत रीफ़ के शहर "अद्रा" में खनन किया और इन आतंकवादियों ने कब्र खोदने के बाद हुज्र बिन अदी के शव को एक अज्ञात स्थान पर स्थानांतरित कर दिया.

कुछ इंटरनेट वेबसाइटों ने गवाहों के हवाले से कहा है हुज्र बिन अदी के शव कब्र से निकालते समय पूर्ण सुरक्षित और पहले दिन की तरह था.

अद्रा क्षेत्र सामने आतंकवादी तत्वों से संबंधित जब्हतुन्नस्रह समूह के नियंत्रण में है.यह आतंकवादी समूह और अन्य उग्रवादी समूहों ने बार बार धमकी दीथी कि सीरिया में तीर्थ और पवित्र स्थानों को नष्ट कर देंगे


source : http://iqna.ir/
157
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

ट्रिपल तलाक बिल के विरूद्ध मुस्लिम ...
हमास, ईरान से सम्बंध बढ़ाने का ...
यमन में बीस से अधिक ऐतिहासिक स्थल ...
अधिकतर इस्लामी देशों में नहीं है ...
ईरानी पुलिस ने आईएस के 4 आतंकी मार ...
यमन के अस्पताल पर सऊदी युद्धक विमानों ...
भारत में "इस्लामी संस्कृति का ...
भारत में हजरत ज़ैनब (स0) के नैतिक जीवन ...
बहरैनी शिया धर्मगुरू आयतुल्लाह ईसा ...
कराची में विशेष रूप से छात्रों के लिए ...

 
user comment