Hindi
Monday 28th of September 2020
  350
  0
  0

उत्तर प्रदेश शिया वक़्फ़ बोर्ड की स्थिति चिंताजनक

उत्तर प्रदेश शिया वक़्फ़ बोर्ड के कर्मचारियों को 10 माह से वेतन नहीं निला है। जिसके विरोध में वह पिछले सप्ताह से क़लम-बन्द हड़ताल पर हैं।

 

वक़्फ़ बोर्ड कर्मचारी हड़ताल पर, बोर्ड का काम-काज ठप

उत्तर प्रदेश शिया वक़्फ़ बोर्ड के कर्मचारियों को 10 माह से वेतन नहीं निला है। जिसके विरोध में वह पिछले सप्ताह से क़लम-बन्द हड़ताल पर हैं। उत्तर प्रदेश शिया वक़्फ़ बोर्ड कर्मचारी एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री ग़ुलामुस्सय्यदैन रिज़वी ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि तीन मई को  एसोसिएशन की ओर से सम्बंधित अधिकारियों को शिया वक़्फ़ बोर्ड से हो रहे बुरे व्यवहार तथा पिछले 10 माह से वेतन न मिलने के कारण कर्मचारियों को हो रही कठिनाईयों से अवगत कराया था परन्तु अभी तक बोर्ड कर्मचारियों को कहीं से हमदर्दी नहीं मिली। उन्होंने कहा कि एसोसिएशन ने अब निर्णय ले लिया है कि अगर सरकार ग़ैर ज़िम्मेदाराना व्यवहार बनाए रखेगी तो बोर्ड कर्मचारियों को 7 जुलाई से ताला बंदी पर मजबूर होना पड़ेगा, जिसकी ज़िम्मेदारी सरकार, प्रशासन तथा बोर्ड सदस्यों पर होगी।

उत्तर प्रदेश शिया वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमैन श्री कमालुद्दीन अकबर तथा बोर्ड के एक सदस्य एस0 एस0 ए0 आब्दी ने 7 माह पूर्व बोर्ड में आपसी तालमेल न बैठने के कारण त्यागपत्र दे दिया था परन्तु अभी तक नए चियरमैन की नियुक्ति न होने के कारण बोर्ड का काम-काज सुचारू रूप से नहीं चल पा रहा है।

.....

  350
  0
  0
امتیاز شما به این مطلب ؟

latest article

इस्राईल की जेलों में फ़िलिस्तीनियों ...
इस्लाम धर्म में विरासत का क़ानून
हदीसो के उजाले मे पश्चाताप 1
अलअंबार प्रांत पर आतंकी क़ब्ज़ा ...
बच्चों के लड़ाई झगड़े को कैसे कंट्रोल ...
सूरे रअद का की तफसीर 2
नेपालः निरंतर बढ़ती मृतकों की संख्या, ...
तेहरान, स्वीट्ज़रलैंड के दूतावास के ...
अल्ताफ़ हुसैन को 81 साल क़ैद की सज़ा
पश्चाताप आदम और हव्वा की विरासत 3

 
user comment