Hindi
Thursday 24th of June 2021
99
0
نفر 0
0% این مطلب را پسندیده اند

रोहिंग्या मुसलमानों के उत्पीड़न की जांच के लिए संयुक्त राष्ट्र दल म्यांमार पहुंचा।

रोहिंग्या मुसलमानों के उत्पीड़न की जांच के लिए संयुक्त राष्ट्र दल म्यांमार पहुंचा।

अहलेबैत (अ) न्यूज़ एजेंसी अबना: रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार दल म्यांमार की सेना की ओर से रोहिंग्या मुसलमानों को उत्पीड़न का निशाना बनाने की जांच के लिए राखनी राज्य पहुंच गया। म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों को सरकारी स्तर पर अत्याचार का निशाना बनाए जाने की खबर विश्व मीडिया में आने के बाद संयुक्त राष्ट्र के एक दल येंगी ली के नेतृत्व में जांच के लिए राखनी राज्य पहुंच गया। यह दल 12 दिवसीय यात्रा के दौरान प्रभावित लोगों से मुलाकात करेंगा और उनके बयानों की रौशनी में रिपोर्ट पेश करेगा। संयुक्त राष्ट्र के प्रतिनिधि येंगी ली राजधानी नीपीदओ पहुंचे जहां उन्होंने सत्तारूढ़ नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी के वरिष्ठ अधिकारियों और सैन्य अधिकारियों से मुलाकात की हालांकि सत्तारूढ़ दल को नियंत्रित करने वाली नेशनल पार्टी के सदस्यों ने संयुक्त राष्ट्र के दल से मिलने से साफ इनकार कर दिया और उनकी रोहिंग्या मुसलमानों से मुलाक़ात का कड़ा विरोध किया। येंगी ली ने मुस्लिम अल्पसंख्यकों को परेशान करने को अस्वीकार्य बताते हुए कहा कि सेना द्वारा मुस्लिम महिलाओं को बलात्कार का निशाना बनाने के बाद हत्या करने और निर्दोष लोगों को हिंसा का निशाना बनाए जाने की विश्व स्तर पर जांच होनी चाहिए। गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र के अनुसार पिछले तीन महीनों में म्यांमार की सेना की ओर से रोहिंग्या मुसलमानों के विरुद्ध क्रेक डाउन किया गया जिसके दौरान 65 हजार लोग बांग्लादेश जाने पर मजबूर हुए।

99
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

पाकिस्तान में पहली बारः ...
पश्चाताप नैतिक अनिवार्य है 4
कफ़न चोर की पश्चाताप 5
अपनी खोई हुई असल चीज़ की जुस्तुजू करो
पश्चाताप नैतिक अनिवार्य है 2
इस्लामी विरासत के क़ानून के उद्देश्य
यहूदियों की नस्ल अरबों से बेहतर है, ...
पोप फ़्रांसिस के बयान से बढ़ा विवाद, ...
प्रत्येक पाप के लिए विशेष पश्चाताप 8
चिकित्सक 12

 
user comment