Hindi
Wednesday 25th of May 2022
447
0
نفر 0

तुर्की, इस्तांबोल में दो विस्फ़ोट, 27 पुलिसकर्मियों सहित 29 की मौत और 166 घायल।

र्की के इस्तांबोल शहर में 2 बम हमलों में कम से कम 29 लोग हताहत और 166 अन्य घायल हुए। तुर्की के गृह मंत्री सुलैमान सोएलू के अनुसार, पहला धमाका कार बम का था। यह धमाका शनिवार को बेसिकतास स्टेडियम के बाहर हुआ जबकि दूसरा आत्मघाती हमला था। आत्मघाती ने क़रीब में मौजूद पार्क में ख़ुद को धमाके से उड़ा
तुर्की, इस्तांबोल में दो विस्फ़ोट, 27 पुलिसकर्मियों सहित 29 की मौत और 166 घायल।

र्की के इस्तांबोल शहर में 2 बम हमलों में कम से कम 29 लोग हताहत और 166 अन्य घायल हुए।
तुर्की के गृह मंत्री सुलैमान सोएलू के अनुसार, पहला धमाका कार बम का था। यह धमाका शनिवार को बेसिकतास स्टेडियम के बाहर हुआ जबकि दूसरा आत्मघाती हमला था। आत्मघाती ने क़रीब में मौजूद पार्क में ख़ुद को धमाके से उड़ा लिया।
तुर्क गृह मंत्री ने कहा कि स्टेडियम के बाहर धमाके में पुलिस बस को निशाना बनाया गया। यह धमाका इस स्टेडियम के एक अहम फ़ुटबाल मैच के बाद हुआ। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि माका पार्क में होने वाला धमाका आत्मघाती था।
तुर्क गृह मंत्री ने बताया कि इन धमाकों के संबंध में अब तक 10 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है।
उधर तुर्क राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान ने जो धमाके के वक़्त शहर में मौजूद थे, कहा कि ये धमाके मैच के समय किए गए ताकि ज़्यादा से ज़्यादा जानी नुक़सान हो।
उन्होंने कहा, “एक बार फिर इस्तांबोल में आतंकवाद का बुरा चेहरा सामने आया जो हर प्रकार के मूल्य व नैतिकता को पैरों तले कुचल रहा है।”
रिपोर्ट मिलने तक किसी गुट ने इन हमलों की ज़िम्मेदारी नहीं ली थी।
नेटो महासचिव येन्स स्टोलटेनबर्ग ने भी इन धमाकों की आतंकी कृत्य के रूप में भर्त्सना की है।
ज्ञात रहे पिछले डेढ साल से तुर्की हमलों के निशाने पर रहा है। इनमें से ज़्यादातर हमलों के लिए तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश, पीकेके और दूसरे कुर्द गुटों पर आरोप लगते रहे हैं।
जून में इस्तांबोल के अतातुर्क एयरपोर्ट पर दाइश के हमले में कम से कम 41 लोग हतहत और 240 अन्य घायल हुए थे।

447
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:
لینک کوتاه

latest article

कफ़न चोर की पश्चाताप 4
आयतुल्लाह ईसा क़ासिम पर हमले को ...
अशीष के होते हुए नशुक्री से ...
पश्चिमी युवाओं के नाम आयतुल्लाह ...
कुरुक्षेत्र मे पश्चाताप
इस्राईल और सऊदी अरब के बीच गुप्त ...
दावत नमाज़ की
ईरानी तेल की ख़रीद पर छूट को ...
पश्चाताप नैतिक अनिवार्य है 1
समाज में औरत का अहेम रोल

 
user comment