Hindi
Monday 25th of October 2021
2312
0
نفر 0
0% این مطلب را پسندیده اند

पाकिस्तान में पहली बारः प्रधानमंत्री ने दिवाली मनाई, होली की इच्छा जतायी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने हिंदू समुदाय को आश्वासन दिया है कि अगर उन पर अत्याचार होता है और अत्याचारी मुसलमान है तो वह हिंदू समुदाय के साथ खड़े होंगे। कराची के स्थानीय होटल में बुधवार को हिंदू समुदाय के धार्मिक त्योहार दीवाली के एक समारोह को संबोधित करते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि यह उनका कर्तव्य और जिम्मेदारी है कि अगर कोई अत्याचार का शिकार है तो उसका संबंध चाहे जिस संप्रदाय और धर्म से हो उसकी मदद करें।
पाकिस्तान में पहली बारः प्रधानमंत्री ने दिवाली मनाई, होली की इच्छा जतायी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने हिंदू समुदाय को आश्वासन दिया है कि अगर उन पर अत्याचार होता है और अत्याचारी  मुसलमान है तो वह हिंदू समुदाय के साथ खड़े होंगे।
 
 
 
कराची के स्थानीय होटल में बुधवार को हिंदू समुदाय के धार्मिक त्योहार दीवाली के एक समारोह को संबोधित करते हुए  पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि यह उनका कर्तव्य और जिम्मेदारी है कि अगर कोई अत्याचार का शिकार है तो उसका संबंध चाहे जिस संप्रदाय और धर्म से हो  उसकी मदद करें।
 
 
 
उन्होंने कहा अगर हिन्दू पर अत्याचार होता है और अत्याचार करने वाला मुस्लिम है तो मुसलमान के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, जो अन्याय करता है उसके खिलाफ आपके साथ खड़ा रहूंगा मेरा धर्म यही कहता है और केवल इस्लाम नहीं बल्कि हर धर्म यही सिखाता है कि अत्याचारी का नहीं पीड़ित का साथ दो।
 
 
 
नवाज़ शरीफ़ का कहना था कि हम एक राष्ट्र और एक देश हैं। जितना भी हो सके एकता रखें और  एक दूसरे की मदद करें, मुसलमान हिन्दुओं से खुशियां बांटे,  हिंदू मुसलमानों और सिखों से,  अल्लाह  भी इसी में खुश है, अल्लाह यह नहीं चाहता कि हम भेदभाव करें।
 
 
 
याद रहे पाकिस्तान में पहली बार  देश के प्रधानमंत्री ने हिंदू समुदाय के धार्मिक उत्सव में भाग लिया है और उन्होंने यह इच्छा भी व्यक्त किया कि उन्हें रंगों के त्योहार होली में भी भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाए।
 
 
 
पाकिस्तान की पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो ने मुट्ठी और पीटीआई के अध्यक्ष इमरान खान ने उमरकोट में दिवाली के कार्यक्रमों में भाग लिया हैं। दोनों शहरों में हिंदू आबादी की एक बड़ी संख्या रहती है।
 
 
 
पाकिस्तान में यह पहली बार है कि जब इस देश के प्रमुख दलों के अध्यक्ष इस तरह दिवाली के कार्यक्रमों समारोह में भाग ले रहे हैं। (Q.A.)


source : irib
2312
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

बच्चों के लड़ाई झगड़े को कैसे कंट्रोल ...
भारत के पूर्व राष्ट्रपति और 'मिसाइल ...
क़सीदा
"मौजूदा दौर में तकफ़ीरी चरमपंथी ...
सऊदी अरब के शियों की मज़लूमियत का ...
ईरान विरोधी अमेरिकी प्रतिबंधों को ...
इस्लाम में पड़ोसी के अधिकार
यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप ...
ईश्वरीय वाणी-3
प्रत्येक पाप के लिए विशेष पश्चाताप 2

 
user comment