Hindi
Sunday 17th of October 2021
2561
0
نفر 0
0% این مطلب را پسندیده اند

फिलिस्तीनियों ने मस्जिद अक़सा की संपत्ति से संबंधित दस्तावेज पेश किया।

अबना: तुर्की की समाचार एजेंसी अनातोलिया की रिपोर्ट के अनुसार फिलिस्तीनियों ने एक दस्तावेज़ जो मस्जिद अक़सा के दस्तावेज़ के नाम से प्रसिद्ध है, प्रस्तुत किया है। जिससे संकेत मिलता है कि मसजिदुल अक़्सा की जमीन के नीचे और जमीन के ऊपर मौजूद सभी भागों का सम्बंध मुसलमानों से है और यहूदियों और अन्य धर्मों का उन पर कोई अधिकार नहीं है। इस दस्तावेज़ की पुष्टि फिलिस्तीन की उच्च इस्लामी समिति ने की है। यह एक गैर सरकारी कमेटी है। शेख
फिलिस्तीनियों ने मस्जिद अक़सा की संपत्ति से संबंधित दस्तावेज पेश किया।

अबना: तुर्की की समाचार एजेंसी अनातोलिया की रिपोर्ट के अनुसार फिलिस्तीनियों ने एक दस्तावेज़ जो मस्जिद अक़सा के दस्तावेज़ के नाम से प्रसिद्ध है, प्रस्तुत किया है। जिससे संकेत मिलता है कि मसजिदुल अक़्सा की जमीन के नीचे और जमीन के ऊपर मौजूद सभी भागों का सम्बंध मुसलमानों से है और यहूदियों और अन्य धर्मों का उन पर कोई अधिकार नहीं है। इस दस्तावेज़ की पुष्टि फिलिस्तीन की उच्च इस्लामी समिति ने की है।
यह एक गैर सरकारी कमेटी है। शेख अकरमियह ने बैतुल मुक़द्दस में एक संवाददाता सम्मेलन में यह दस्तावेज़ पढ़ कर सुनाया। इस दस्तावेज़ में लिखा है कि "मस्जिद अक़सा पूरी तरह से मुसलमानों से संबंध रखती है और यहूदियों का उस पर कोई अधिकार नहीं है। इस दस्तावेज़ के अनुसार बैतुल मुक़द्दस में ग़ासिब इस्राईल की उपस्थिति अवैध है और इस्राईल को मस्जिद अक़सा पर किसी तरह का अधिकार प्राप्त नहीं है।
इस दस्तावेज़ में आया है कि यहूदी, मस्जिद अक़सा के किसी भी हिस्से में प्रवेश करने का अधिकार नहीं रखते हैं और उनका प्रवेश आक्रामकता और इस्लामी, अरबी और फिलीस्तीनी अधिकार का उल्लंघन है। गौरतलब है कि यहूदी सैनिकों ने मस्जिद अक़सा पर ताज़ा हमला 26 जुलाई को किया था। इस हमले में 17 फिलीस्तीनी घायल हुए और मस्जिद को काफी नुकसान पहुंचा।


source : abna
2561
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

पत्नी का सम्मान।
इस्लाम नहीं दाइश है भय और डर का करणः ...
फिलीपींस और अमरीका के संबंधों में ...
विचित्र संहिता एवं विचित्र परिणाम 3
हज़रत अली की शहादत की याद में दुनिया ...
ज़ायोनी सैनिकों के हाथों एक और ...
क़ुरआन तथा पश्चाताप जैसी महान समस्या 5
भारत में बढ़ती असहिष्णुता पर दर्जनों ...
सुन्नत अल्लाह की किताब से
"मौजूदा दौर में तकफ़ीरी चरमपंथी ...

 
user comment