Hindi
Friday 12th of August 2022
0
نفر 0

यमन के लिए सहायता लेकर रवाना होंगे ईरानी जहाज़,

ईरान की रेड क्रिसेंट संस्था के प्रमुख अली असग़र अहमदी ने कहा है कि यमन की अत्याचार ग्रस्त जनता के लिए सहायता सामग्री लेकर ईरानी जहाज़ शनिवार को रवाना हो जाएगा। श्री अहमदी ने क्षेत्रीय संकटों की समाप्ति शीर्षक के अंतर्गत आयोजित होने वाली अंतर्राष्ट्रीय कांफ़्रेंस के अवसर पर पत्रकारों से बात क
यमन के लिए सहायता लेकर रवाना होंगे ईरानी जहाज़,

ईरान की रेड क्रिसेंट संस्था के प्रमुख अली असग़र अहमदी ने कहा है कि यमन की अत्याचार ग्रस्त जनता के लिए सहायता सामग्री लेकर ईरानी जहाज़ शनिवार को रवाना हो जाएगा।
श्री अहमदी ने क्षेत्रीय संकटों की समाप्ति शीर्षक के अंतर्गत आयोजित होने वाली अंतर्राष्ट्रीय कांफ़्रेंस के अवसर पर पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि ईरान की रेड क्रिसेंट संस्था ने यमन पर सऊदी अरब के अतिक्रमण के बाद से निरंतर मानवीय सहायताएं भेजी हैं किन्तु सऊदी अरब ने सहायता के मार्ग में रोड़े अटकाए। श्री अहमदी ने बताया कि बंदर अब्बास के तट पर एक जहाज़ में सहायता सामग्री लादी जा रही है और 2500 टन मानवता प्रेमी सहायता यमन भेजी जाएगी। ईरान की रेड क्रिसेंट संस्था के प्रमुख ने कहा कि ईरान की रेड क्रिसेंट संस्था ने अंतर्राष्ट्रीय रेड क्रिसेंट संस्था को सूचित कर दिया है और इसी प्रकार सऊदी अरब की रेड क्रिसेंट संस्था के अधिकारियों को भी फ़ैक्स के माध्यम से सूचित कर दिया है। श्री अहमदी का कहना था कि मानवता प्रेमी सहायता लिए यह कारवां शनिवार को रवाना होगा जिसे यमन पहुंचने में लगभग दस दिन लगेंगे। उन्होंने बताया कि ईरान ने हवाई जहाज़ से भी यमनी जनता के लिए मानवताप्रेमी सहायता भेजी किन्तु सऊदी अधिकारियों ने ईरानी जहाज़ को सनआ के हवाई अड्डे पर उतरने से रोक दिया।


source : abna
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:
لینک کوتاه

latest article

यमन हमलों में ज़ायोनी शासन की ...
हमने सेना के इशारों पर मुसलमानों ...
ह़ज़रत अली अलैहिस्सलाम के जीवन की ...
दर्जनों आतंकी ISIL को छोड़ कर फ़रार
एक भी आतंकवादी को बच कर नहीं जाने ...
इराक़ के सुन्नी क़बीलों ने ईरान ...
पाकिस्तान में 17 अपराधी फांसी पर ...
आयरलैंड में सबसे बड़े इस्लामी ...
राहुल ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, ...
अमेरिका में कुछ इस तरह हुई 2018 की ...

 
user comment