Hindi
Friday 23rd of April 2021
99
0
نفر 0
0% این مطلب را پسندیده اند

मोमिन और पाखंडी में फ़र्क़

मोमिन और पाखंडी में फ़र्क़

मोमिन पहले सलाम करता है जबकि मुनाफ़िक़ कहता हैः मुझे सलाम किया जाएः पैग़म्बरे इस्लाम

लोगों में इज़्ज़त व शोहरत पाने का तरीक़ा

जो लोगों के बीच इज़्ज़त व शोहरत चाहता है उसे तन्हाई और सबके सामने दोनों ही हालत में गुनाह से बचना चाहिएः इमाम रज़ा अलैहिस्सलाम

दुनिया में अधिक ज़िन्दगी पाने का राज़

इमाम मूसा काज़िम अलैहिस्सलाम फ़रमाते है कि जो शख़्स अपने घरवालों और भाइयों के साथ नेकी करे तो उसकी ज़िन्दगी बढ़ जाएगी।

 अपनी औलाद की इज़्ज़त करना

अपनी औलाद की इज़्ज़त करो और उन्हें अदब सिखाओः पैग़म्बरे इस्लाम

 दूसरों के ऐब से पहले अपने ऐब पर नज़र.

हज़रत इमाम जाफ़रे सादिक़ अलैहिस्सलाम फ़रमाते हैं कि इंसान के लिए सबसे ज़्यादा फ़ायदेमंद चीज़ यह है कि वह दूसरों के ऐब व कमियों पर नज़र डालने से पहले अपने ऐब व कमी पर नज़र रखे।


source : irib.ir
99
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

रसूले अकरम की इकलौती बेटी
बुरे लोगो की सूची से नाम काट कर अच्छे ...
शियों के इमाम सुन्नियों की किताबों ...
अशीष के व्यय मे लोभ
आज़ाद तीनत सिपाही जनाबे हुर्र बिन ...
हज़रत इमाम सादिक़ अलैहिस्सलाम का ...
कुरआन मे प्रार्थना 2
हदीसे ग़दीर की सेहत का इक़रार करने ...
आखिर एक मशहूर वैज्ञानिक मुसलमान कैसे ...
आयतुल कुर्सी

 
user comment