Hindi
Tuesday 19th of December 2017
code: 81337
रोहिंग्या मुसलमानों के लिए म्यांमार सरकार की नई पॉलिसी

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबना : प्राप्त सूत्रों के अनुसार म्यांमार के रोहिंग्या मुसलमान अभी तक बेघर हैं, एवं दरबदरी का जीवन व्यतीत कर रहे हैं। जबकि एक सूचना यह भी है कि म्यांमार की सरकारी लीडर आंग सान सूची ने यह बयान दिया है कि वह बांग्लादेश में रह रहे रोहिंग्या मुसलमानों को फिर से म्यांमार वापस बुलाने के लिए बातचीत की तैयारी में है।
 अब यह साफ़ नहीं है कि वह ऐसा कर पाऐंगी या नहीं।
 ज्ञात रहे कि म्यांमार में पिछले 7 वर्षों से मुसलमानों का नरसंहार किया जा रहा है, जिसके विरोध में न ही अमेरिका म्यांमार को कुछ कह रहा है और न ही अंतर्राष्ट्रीय संगठन इस पर किसी तरह की रोक लगा रहे हैं।
 जबकि अगर कहीं किसी मुसलमान देश में पत्ता भी खटक जाए तो वाशिंगटन से मानव सहायता एवं उनके अधिकारों के लिए झूठे नारे लगने लगते हैं, इन सब हालात को देखते हुए तो यह लगता है कि म्यांमार में मुसलमानों का नरसंहार अमेरिका, अंतर्राष्ट्रीय संगठन एवं अन्य साम्राज्यवादी देशों की इच्छा पर ही हो रहा है।

user comment
 

latest article

  नाइजीरिया में बोको हराम के हमले जारी, 6 ...
  यमन, लाखों मुसलमानों ने मनाया हज़रत ...
  मुक़्तदा सद्र की ट्रंप को धमकी
  आतंकवादी सम्भू दयाल के समर्थन में ...
  मौलाना अली तक़वी साहब के निधन पर अहलेबैत ...
  अगर यमन को घेरा जल्दी समाप्त ना हुआ तो हम ...
  उर्दू में शपथ लेने पर गुंडों ने कर दी ...
  दिल्ली: शिया जामा मस्जिद के इमामे जुमा ...
  पश्चिम बंगाल में हिंदु-मुसलमान नहीं होने ...
  फ़िलिस्तीनी जनता का डिफेंस हमारा ...