Hindi
Friday 23rd of February 2018
code: 81291

अमेरिका अपने रचाए षणयंत्रों में सफ़ल नहीं हो पाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रतिरोधी आंदोलन हिज़्बुल्लाह की कार्यकारी परिषद् के उपाध्यक्ष शैख़ अली दामूश का कहना है कि प्रतिरोधी आंदोलन की सफलता के बाद क्षेत्र एक नए युग में प्रवेश कर चुका है । शैख़ अली ने कहा कि क्षेत्र में प्रतिरोधी आंदोलन की सफलता तथा सीरिया , इराक और लेबनान में अमेरिकी - ज़ायोनी गठबंधन के षड्यंत्रों की विफलता के बाद मिडिल ईस्ट एक नए युग में प्रवेश कर गया है । उन्होंने कहा कि अमेरिका और ज़ायोनी लॉबी आले सऊद के सहयोग से अवैध राष्ट्र इस्राईल और अरब देशों के संबंध सामान्य कर इस गठबंधन को ईरान और प्रतिरोधी आंदोलनों के मुकाबले मे लाने के लिए प्रयत्नशील हैं । उन्होंने हिज़्बुल्लाह और ईरान की शक्ति का उल्लेख करते हुए कह कि दुश्मनों को किसी षड्यंत्र में सफलता नहीं मिलेगी तथा वह अपने उद्देश्यों में विफल रहेंगे ।

latest article

  ইরানের ধর্মভিত্তিক জনগণের শাসন ...
  आयतल कुर्सी का तर्जमा
  नमाज की ओर बुलाना, ज़िंदगी का सबसे ...
  इस्लाम में पड़ोसी के अधिकार
  क्या आपको मालूम है कि कब-कब केला खाना ...
  मुहम्मद बिन सलमान से डील नहीं हो पाने ...
  सुप्रीम कोर्ट के जजों ने दी चेतावनीः ...
  ग्यारह सऊदी शहज़ादे गिरफ़्तार।
  रियाद में सऊदी शासन के विरुद्ध ...
  लंदनः अमेरिकी दूतावास के सामने ...

user comment