Hindi
Wednesday 27th of March 2019
  317
  0
  0

बहरैन में लोकतंत्र सरकार का अभाव ही संकट का असली कारण।

बहरैन में लोकतंत्र सरकार का अभाव ही संकट का असली कारण।

बहरैन के जमीअतुल विफ़ाक़ पार्टी के प्रमुख ने कहा है कि बहरैन में लोकतांत्रिक सरकार का अभाव ही संकट का मुख्य कारण है। अलमयादीन टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार बहरैन के जमीअतुल विफ़ाक़ पार्टी के प्रमुख शेख अली सलमान ने जो इस समय हिरासत में हैं, अपने एक बयान में कहा है कि बहरैन में सरकार जनता द्वारा नहीं चुनी गई है जिसकी वजह से संकट का सिलसिला जारी है। शेख अली सलमान ने सभी बहरीनयों से अपील की है कि वह ऑले ख़लीफ़ा सरकार के खिलाफ अपना शांतिपूर्ण विरोध और अपने अधिकारों की बहाली की मांग जारी रखें। उन्होंने अपनी हिरासत को गैरकानूनी और क्रूर बताते हुए कहा है कि बहरैनी जनता की सारी मांगें कानूनी हैं जो मानवीय और राष्ट्रीय कर्तव्यों के दायरे में हैं। दूसरी ओर बहरैन की ऑले ख़लीफ़ा सरकार के सुरक्षा बलों ने बहरैन जनता के शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को कुचलने का सिलसिला जारी रखते हुए सित्रह में प्रदर्शनकारियों को अपनी आक्रामकता का निशाना बनाते हुए प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल किया है। यह ऐसी स्थिति में है कि प्रदर्शनकारी, बहरैन की जमीअतुल विफ़ाक़ पार्टी के अध्यक्ष शेख अली सलमान की तत्काल रिहाई की मांग कर रहे थे। प्रदर्शनकारियों ने इसी तरह बहरैनी जनता के प्रदर्शनों और शेख अली सलमान की रिहाई से संबंधित उनके समर्थन में कुवैत के संसद सदस्य अब्दुल हमीद दशती के पक्ष की सराहना की।


source : www.abna.ir
  317
  0
  0
امتیاز شما به این مطلب ؟

latest article

      मानवाधिकार आयुक्त का कार्यालय खोलने ...
      मियांमार के संकट का वार्ता से समाधान ...
      शबे यलदा पर विशेष रिपोर्ट
      न्याय और हक के लिए शहीद हो गए हजरत ...
      ईरान और तुर्की के मध्य महत्वपूर्ण ...
      बहरैन में प्रदर्शनकारियों के दमन के ...
      बहरैन नरेश के आश्वासनों पर जनता को ...
      विदेशमंत्रालय के प्रवक्ता का ...
      अफ़ग़ानिस्तान से अमरीकी सैनिकों की ...
      इस्लामी क्रांति का दूसरा अहम क़दम, ...

 
user comment