Hindi
Wednesday 27th of March 2019
  51
  0
  0

मेरा हुसैन (अ:स) क्या है

जहाने अज़में वफ़ा का पैकर
ख़ेरद का मरकज़, जुनू का महवर


जमाले ज़हरा (अ:स) जमाले हैदर (अ:स)
ज़मीरे इंसान, नसीरे दावर


ज़मी क़ा दिल, आसमां क़ा यावर
दयारे सब्रो रज़ा का दिलबर


कमाले इसार का पयम्बर
शऊर-ए अमनो सुकूँ का पैकर


जबीने इंसानियत का झूमर

अरब का सेहरा, अजम के ज़ेवर


हुसैन (अ:स) तस्वीरे अमबिया है
न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?

 

हुसैन (अ:स) अहले वफ़ा की बस्ती
हुसैन (अ:स) आ-इने हक़ परस्ती


हुसैन (अ:स) सिद्क़ो सफा क़ा साथी
हुसैन (अ:स) चश्मे अना की मस्ती


हुसैन (अ:स) पेश-अज़ अदम तसव्वुर
हुसैन (अ:स) बाद अज़ क़यामे हस्ती


हुसैन (अ:स) ने ज़िंदगी बिखेरी
उरूजे-हफ़त, आसमाने अज़मत


हुसैन (अ:स) के नक़शे पा की मस्ती
हुसैन (अ:स) को ख़ुल्द में ना ढूँढो


हुसैन (अ:स) महंगा है ख़ुल्द सस्ती
हुसैन (अ:स) मक़सूमे दीनो ईमां


हुसैन (अ:स) मफहूमे :हल अता है"
न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

 

हुसैन (अ:स) दिल है, हुसैन (अ:स) जाँ है
हुसैन (अ:स) क़ुर-आन की ज़बां है


हुसैन (अ:स) इरफ़ान की सल्तनत है
हुसैन (अ:स) सरकारे दो जहां है


हुसैन (अ:स) सजदों की सरज़मीं है
हुसैन (अ:स) ज़हनों क़ा आसमां है


हुसैन (अ:स) ज़ख्मों भरी जबीं है
हुसैन (अ:स) अज़मत का आस्तां है


उठा रहा है जो लाशें अकबर (अ:स)
हुसैन (अ:स) बुढ़ा नहीं जवाँ है


वो सर-ख़ुरुए नशेबे सहरा
वो सर बुलंदे सरे सिना है


वो बदरे अफ्लाके आदमियत
वो सदरे अरबाबे कर्बला है


* न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

 

हुसैन (अ:स) ईमां की जुस्तजू है
हुसैन (अ:स) यजदान की आबरू है


हुसैन (अ:स) तनहा था कर्बला में
हुसैन (अ:स) का ज़िक्र चार सू है


फुरात की नब्ज़ रुक गयी है
हुसैन (अ:स) मसरुफे गुफ्तगू है


जहाँ गुलाबो से कट गया है
हुसैन (अ:स) शायद लहू लहू है


हयात के इरतक़ा से पूछो
हुसैन (अ:स) पैग़म्बरे नुमू है


हुसैन (अ:स) का हौसला न पूछो
हुसैन (अ:स) लुट कर भी सुर्खरू है


वो देखो फौजों के दरमयां भी
हुसैन (अ:स) तनहा डटा हुआ है


* न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

हुसैन (अ:स) निखरा हुआ क़लन्दर
हुसैन (अ:स) बिफरा हुआ समंदर


हुसैन (अ:स) बसते दिलों से आगे
हुसैन (अ:स) उजड़े दिलों के अन्दर


हुसैन (अ:स) सुल्ताने दीनो ईमां
हुसैन (अ:स) अफकार का सिकंदर


हुसैन (अ:स) से आदमी का रूतबा
हुसैन (अ:स) है आदमी का "मंदिर"


ख़ुदा की बख्शीश ही ख़ेमाज़न है
हुसैन (अ:स) की सल्तनत के अन्दर


हुसैन (अ:स) दाता हुसैन (अ:स) राजा
हुसैन (अ:स) भगवान् हुसैन (अ:स) सुन्दर


हुसैन (अ:स) आकाश क़ा ऋषि है
हुसैन (अ:स) धरती की आत्मा है


* न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

हुसैन (अ:स) मैदान क़ा सिपाही
हुसैन (अ:स) दश्ते अना क़ा राही


हुसैन (अ:स) फ़रक़े अजल क़ा बल है
हुसैन (अ:स) अंदाज़े कज-कलाही


हुसैन (अ:स) की गर्दे-पा ज़माना
हुसैन (अ:स) की ठोकरों में शाही


हुसैन (अ:स) मेराजे फ़िकरे आलम
हुसैन (अ:स) रमज़े-जहाँ पनाही


ज़मीरे-इन्साफ की लूग़द में
हुसैन (अ:स) मेयार-ए बे-गुनाही


बनामे जब्र-ओ-अजूर-ए-शाही
हुसैन (अ:स) ग़ैरत का फैसला है


* न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

हुसैन (अ:स) फिकरो-अना का ग़ाज़ी
हुसैन (अ:स) जंगाह में नमाज़ी


हुसैन (अ:स) हुस्ने-न्याज़े मंदी
हुसैन (अ:स) एजाज़े-बे-नेयाज़ी


हुसैन (अ:स) आग़ाज़े-जाँ -निसारी
हुसैन (अ:स) अंजामे जाँ गुदाज़ी


हुसैन (अ:स) तौक़ीरे कार-बंदी
हुसैन (अ:स) ताबीरे कार-साज़ी


हुसैन (अ:स) मोजिज़-नुमाए दौराँ
हुसैन (अ:स) हक़ की फसूं तराज़ी


हुसैन (अ:स) हारा तो यूँ के जैसे
हुसैन (अ:स) ने जीत ली हो बाज़ी


हुसैन (अ:स) सारे जहां क़ा वारिस
हुसैन (अ:स) कहने को बे नवा है


* न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

हुसैन (अ:स) पैग़म्बरे बहारां
हुसैन (अ:स) तसकीने-दिल-फिगारां


हुसैन (अ:स) मिरे हिजाज़े हस्ती
हुसैन (अ:स) सालारे-शह-सवारां


के दीदा-ओ-दिल के दाश-ओ-दर में
हुसैन (अ:स) तम्सीले अब्रों बारां


हुसैन (अ:स) तदबीरे-जाँ फरोशां
हुसैन (अ:स) तक़दीरे सोगवारां


कभी तो चश्मे हुनर से देखो
हुसैन (अ:स) रश्के-रुख़े निगाराँ


हुसैन (अ:स) हुस्ने महे-मुहर्रम
हुसैन (अ:स) ही ईदे-रोज़्दारान


हुसैन (अ:स) सरमाया अमबिया कज़
हुसैन (अ:स) एजाज़े औलिया है


* न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

हुसैन (अ:स) एक दिल-नशीं कहानी
हुसैन (अ:स) दस्तूरे-हक़ क़ा बानी


हुसैन (अ:स) अब्बास (अ:स) क़ा सरापा
हुसैन (अ:स) अकबर (अ:स) की नौजवानी


हुसैन (अ:स) किरदारे-अहले-ईमां
हुसैन (अ:स) मेयारे-जिंद-गानी


हुसैन (अ:स) क़ासिम (अ:स) की कम-नुमाई
हुसैन (अ:स) असग़र (अ:स) की बेज़ुबानी


हुसैन (अ:स) सज्जाद (अ:स) की ख़मोशी
हुसैन (अ:स) बाक़र (अ:स) की नौहाखानी


हुसैन (अ:स) दजला का खुश्क़ साहिल
हुसैन (अ:स) सेहरा की बे-करानी


हुसैन (अ:स) ज़ैनब (अ:स) की कसमो-पुर्सी
हुसैन (अ:स) कुलसूम (अ:स) की रिदा है


* न पूछ मेरा हुसैन (अ:स) क्या है ?*

 


source : alhassanain.org
  51
  0
  0
امتیاز شما به این مطلب ؟

latest article

      म्यांमार जनसंहार की जांच की घोषणा
      फज़ीलतो का समन्दर बतूल हैं
      दिलासा हुसैन है।
      इस्लाम की अज़मत
      हक़ निभाना मेरे हुसैन का है,
      सलाम
      ताजे लताफत हैं फातेमा
      शिकवा
      जवाबे शिकवा
      जो शख्स शहे दी का अज़ादार नही है

 
user comment